यज्ञ अनुष्ठान पूजन सामग्री

यज्ञ अनुष्ठान पूजन सामग्री

कूमकूम 1 पैकेट, मोली 5, धूप 1, केशर 1 तोला, कपूर 100 ग्राम, अबीर (अभ्रक) , गुलाल , सिंदूर 100 ग्राम, हल्दी 250 ग्राम, यज्ञोपवीत (जनेउ) 1 गेंडा, रुई 100 ग्राम, चावल 5 किलो ग्राम, सुपारी 500 ग्राम, कोरा पान 21 नग (डंठल वाला ), पतासा 500 ग्राम,

पंचमेवा – (दाख,छुहाड़ा, बादाम,नारियलगिरी ,अखरोट आदि) 500 ग्राम, मिश्री पाव, छोटी इलायची 1 तोला, लौंग 1 तोला, जावित्री 100 ग्राम, जायफल 100 ग्राम, इत्र 1 बड़ी शीशी, गुलाबजल 1, कस्तुरी,  चीनी 1 किलो ग्राम, घी 2 किलो ग्राम, शहद 50 ग्राम, पीली सरसों, कच्चा सुत 1, नारियल 11, गट 5, चंदन का मुठिया 1, रुद्राक्ष माला 1, लाल,हरा, पीला, काला रंग,

पंच रत्न – (सोना,चांदी,लाजवर्त,मोती,मूंगा)

(सोना,हीरा,मोती, पद्मराग,नीलम),

पंच पल्लव – (आम,पीपल,गूलर,पाकड़, अशोक/बरगद),

पंचामृत – (द ध,दही,घी,शहद,चीनी),

पंचगव्य – (गौदुग्ध,गौ दही,गौ घृत, गौमूत्र,गौबर), मधुपर्क (घी,दही,शहद)

सर्वोषिधि – मुरा, जटामांसी, वच, कूट, शिलाजीत, आम्बा हल्दी,दारुहल्दी, साठी,चम्पा, नागरमोथा

सप्तमृतिका – हाथी के स्थान,घोड़े के स्थान,वाल्मीक(दीमक),नदी संगम,तालाब,राजदवार, गौशाला की मिट्टी

सप्तधान – जौ,गेंह , चावल, तिल, कंगनी(बाजरा),चना,सावं

नवग्रह की समिधा – सूर्य -आक,चंद्रमा-पलास, मंगल-खैर, बुध-अपामार्ग,गुरु-पीपल,शुक्र-गूलर,शनि-शमी(खेजड़ी),राहु-कुशा, केतु-दूर्वा

हवन सामग्री – (सुगंधकोकिल,हाउबोर,कपूर , कचरी,जटामांसी,अगर ,तगर,छड़ छड़ीला व अन्य ओषधि से तैयार), काला उड़द 500 ग्राम

यज्ञ पात्र – प्रणीता, प्रोक्षणी, सुरवा, सुचि, शंख, घंटी, रती, प्रधान कलश तांबे का, वास्तु कलश तांबे का, क्षेत्रपाल कलश तांबे का, योगनी कलश तांबे का, रुद्र कलश तांबे का, कलश तांबे या पीतल के 5, पूर्णपात्र (टोपियां), कांसे की थाली, कांसे का कटोरा, छायापात्र (कांसे की कटोरी),

ब्रम्हा वस्त्र (धोती,गंजी,गमछा,कमीज,आसन), ब्राह्मण वरण (धोती, गंजी,गमछा,कमीज,आसान,गोमुखी,माला), सफेद,लाल,हरा,काला, पीला वस्त्र, स्वर्ण प्रधान देवता की प्रतिमा, स्वर्ण वास्तु देवता की प्रतिमा, सोने चांदी की टिकडी, पञ्च पात्र, आचमनी, अर्घा, ताबाड़ी, जलपात्र, लोटा,

हवन सामग्री, तिल 1 किलो ग्राम, चावल 500 ग्राम इस अनुपात में, जौ 250 ग्राम, चीनी बुरा 250 ग्राम, कमलगट्टा पाव, चंदन का चूरा पाव, गूगल 100 ग्राम, भोजपत्र, मूंग 500 ग्राम, गेंहू का दलिया 500 ग्राम, बांस का पात्र 1, दीपक मिट्टी के 21, कलश मिट्टी के 11, मालिपन्ना 11, पुष्पमाला 11, पुष्प, दूर्वा, खेजड़ी के पत्ते, तुलसी पत्ता, गंगाजल, बिल्बपत्र, ऋतुफल 21,

पेड़ा 500 ग्राम, लड्ड 500 ग्राम, गुड़ 500 ग्राम, दूध 1 किलो ग्राम, दही 500 ग्राम, आटा, समिधा (लकड़ी) 3 किलो ग्राम, आम,पीपल,फोग आदि बिना कांटेदार पेड़ की लकड़ी, माचिस 1, आसन कुशा के 4, ग्रन्धिबंधन हेतु दुप्पटा, खुल्ले रुपये दक्ष्क्षिना, पट्टा (चौकी) 5, ईंट वेदी निर्माण हेतु बेकलु मिट्टी

1 यह सामग्री एक दिवसीय यज्ञ के अनुसार है आहुति व दिवस की वृधि में इसी अनुपात में आवश्कता रहती है|

2 उपरोक्त सभी सामग्री शास्त्रोक्त विधि से तैयार व शुद्ध करके प्रशिक्षण केंद्र पर उपलब्ध रहती है |

यह सामग्री एक दिवसीय यज्ञ के अनुसार है आहुति व दिवस की वृधि में इसी अनुपात में आवश्कता रहती है उपरोक्त सभी सामग्री शास्त्रोक्त विधि से तैयार व शुद्ध करके प्रशिक्षण केंद्र पर उपलब्ध रहती है

शास्त्री पंडित गायत्री प्रसाद शर्मा

केंद्राधीक्षक

पुजक अर्चक कौशल प्रशिक्षण केंद्र ,बीकानेर

शास्त्री पंडित यज्ञ प्रसाद शर्मा

मुख्य प्रशिक्षक

9269211730, 8290595609

Select the fields to be shown. Others will be hidden. Drag and drop to rearrange the order.
  • Image
  • SKU
  • Rating
  • Price
  • Stock
  • Availability
  • Add to cart
  • Description
  • Content
  • Weight
  • Dimensions
  • Additional information
  • Attributes
  • Custom attributes
  • Custom fields
Compare
Wishlist 0
Open wishlist page Continue shopping
Alert: You are not allowed to copy content or view source !!